कुशीनगर: बच्चे चुराकर भीख मगवाने वाली महिला गिरफ्तार

kushinagarकुशीनगर: मासूमो को अगवा कर उनसे भीख मंगवाने का काम करवाने के आरोप में पुलिस ने उस महिला को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेज दिया।

कुशीनगर जनपद के विशुनपुरा थाना क्षेत्र के ग्राम किन्नरपट्टी निवासनी नूरजहा पत्नी रज्जाक! जो अपने सहयोगी के साथ मिलकर मासूम बच्चों को चुराती है और उन मासूमो को चोटिल कर रेलवे स्टेशन ,बस स्टैण्ड,मेला और भीडभाड जगहो पर भीख मगवाती है।

अपने खुद के बेटे के जिगर के टुकडे को भी इसने नही बक्शा। अपने ही सगे बेटे के छह माह के जीगर के टुकडे को चुराकर यह डायन उस मासूम से भीख मगवा रही है। मासूम की माँ व कमजर्फ नूरजहा की बहू मजरून पत्नी अकबर की माने तो 2 मई 2015 की घटना है।

जब मजरून अपने दूधमुहे कलेजे के टुकडे को अपनी ममता की आँचल मे छुपाकर सो रही थी। रात को तकरीबन 1बजे उसकी सास नूरजहा उसके बच्चे को चुरा ले गई। मासूम फेकन की माँ मजरून खातून वेशुनपुरा थाने मे तहरीर देकर अपनी सास पर बच्चे को चुराने का आरोप लगाया।

अपने तहरीर मे मजरून ने कहा है कि उसकी सास भिक्षाटन करने व मासूम बच्चे को चुराकर भी भिक्षाटन कराने का कार्य करती है। उसने सीधे तौर पर आरोप लगाया कि उसकी सास उसके बच्चे को चुराकर ले गई है। मामले को गम्भीरता से लेते हुए विशुनपुरा पुलिस ने मुकदमा अपराध संख्या -442/2015धारा 363आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज कर नूरजहा की तलाश मे जुट गई।

इधर बताया जाता है कि नूरजहा अपने छह माह के पौत्र फेकन को जख्मी करके अन्य मासूम बच्चो के साथ रेलवे व बस स्टेशनो पर भईख मंगवाने का काम करते थे।बताया जाता है कि जिस दिन शाम को यह मासूम मिली हुई कम रकम लेकर घर जाते है उस दिन नूरजहा और उसके साथी मिलन पुत्र राजकुमार निवासी अटरिया जनद सीतापुर उन बच्चो को बेरहमी से मारते पीटते थे।

नौ माह से तलाश कर रही पुलिस को सोमवार की देर शाम नूरजहा अपने सहयोगी के साथ पुलिस के हत्थे चढ गई। पुलिस ने नूरजहा उर्फ़ शायरा एवं उसके साथी मिलन को हिरासत मे लेकर उनके चंगुल मे फसे अपह्त मासूम फेकन के साथ-साथ दो अन्य मासूम बच्चो को छुडाने मे सफलता हासिल की है।

पुलिस अभिरक्षा मे लाये गए अभियुक्तो को मीडिया के सामने पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार भट्ट ने बेनकाब कर गुमशुदा बच्चो के रहस्य से पर्दा हटाते हुए बताया कि सोमवार को देर शाम तकरीबन साढ़े सात बजे विशुनपुरा थानाध्यक्ष विनय कुमार पाठक अपने मातहतो के साथ पैदल पखवरा गुस्त मे दूदही क कस्बे मे मातूर थे तभी मुखबिर से सूचना मिली कि अभियुक्ता नूरजहा उर्फ़ शायरा खातून पत्नी रज्जाक अपने साथी के साथ अपह्रत बच्चो को लेकर कही भागने के उद्देश्य से दुदही रेलवे स्टेशन पर है।

एसपी श्री भट्ट ने बताया कि सूचना मिलते ही पुलिस हरकत मे आ गई और तत्काल मौके फर पहुची,जहा अभियुक्ता नूरजहा व उसका सहयोगी मिलन पुत्र राजकुमार निवासी ग्राम अटरिया जनपद सीतापुर को हिरासत मे लेकर उनके चंगुल से अपह्रत बालक फेकन उम्र तकरीबन 15 माह,छोटू पुत्र हसन हुसैन निवासी मवईया कालोनी लखनऊ उम्र 14 वर्ष व फातिमा पुत्री रज्जाक निवासी इन्नरपट्टी जनपद कुशीनगर उम्र 12 वर्ष को मुक्त कराया।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि अभियुक्तो की जमातलाशी के दौरान नूरजहा के पास से भिक्षाटन से इक्कठा किए गए 5230 रूपये बरामद किया गया। गिरफ्तार अभियुक्तो को धारा 363/363ए तहत जेल भेज दिया गया जबकि बरामद मासूम बच्चो को किशोर न्याय बोर्ड के समक्ष प्रस्तुत किया जायेगा।

LIKE US:

fb
AD4-728X90.jpg-LAST

कुशीनगर: बच्चे चुराकर भीख मगवाने वाली महिला गिरफ्तार

error: Content is protected !!