April 18, 2018
टॉप न्यूज़

गोरखपुर की बेटी प्रतिमा ने प्रति‍भा के दम पर छू लिया आसमान, टॉप-50 इंडियन आइकॉन अवार्ड के लिए चुनी गई

गोरखपुर की बेटी प्रतिमा टॉप-50 इंडियन आइकॉन अवार्ड से सम्‍मानित

गोरखपुर: दिल में कुछ कर गुजरने का जज्‍बा हो, तो आसमान की बु‍लंदियों को छू लेना कोई मुश्किल काम नहीं है। गोरखपुर की बेटी प्रतिमा ने अपनी प्रतिभा के बल पर ऐसा कर दिखाया है। उसे  टॉप-50 इंडियन आइकॉन अवार्ड से सम्‍मानित किया गया है। बैंकॉक में रह रहीं प्रतिमा फैशन डिजाइनिंग के क्षेत्र में जाना-पहचाना नाम है। बैंकॉक और भारत सहित कई देशों में उनके डिजाइन किए गए परिधान की खासी मांग है। गोरखपुर के बेलीपार क्षेत्र के कसिहार में वर्ष 1982 में जन्‍मी प्रतिमा मिश्रा की प्रारम्भिक शिक्षा मलॉव और कौड़ीराम में हुई है। उनकी शादी मिश्रौलिया महुआडाबर के रहने वाले पवन मिश्रा के साथ वर्ष 2002 में हुई थी।

शादी के बाद से ही वह रत्‍न व्यवसाई पति पवन मिश्रा के साथ बैंकॉक चली गईं। वह पिछले कई वर्षों से फैशन डिजाइनिंग के क्षेत्र में सक्रिय हैं। बैंकॉक में लोकप्रिय होने के बाद उनके द्वारा डिजाइन किए गए परिधान की डिमांड भारत सहित कई अन्‍य देशों में भी है। मुंबई के इस्‍कॉन सभागार में 28 दिसम्‍बर को उन्‍हें सम्‍मानित किया गया. इस पुरस्‍कार से सम्‍मानित होने वाली वह गोरखपुर की पहली महिला हैं।

इसका श्रेय वह मायके, ससुराल और पति पवन मिश्रा के सपोर्ट को देती हैं। वह कहती हैं कि परिवार के सहयोग के कारण ही आज वह इस मुकाम पर पहुंची हैं। शादी के बाद भी उन्‍हें इतनी छूट मिली कि वह अपना करियर संवार सकें। इसके लिए उनके पति ने उनका भरपूर साथ दिया। जिस कारण आज वह इस सम्‍मान को पाने की हकदार बनी हैं।

प्रतिमा के साथ अपने क्षेत्र में उत्‍कृष्‍ट कार्य करने वाली 50 अन्‍य हस्तियों को भी सम्‍मानित किया गया. उनकी इस उप‍लब्धि पर उनके परिजनों, शुभचिंतकों और मित्रों ने शुभकामना दी है।

Related Posts

गोरखपुर की बेटी प्रतिमा ने प्रति‍भा के दम पर छू लिया आसमान, टॉप-50 इंडियन आइकॉन अवार्ड के लिए चुनी गई