April 18, 2018
टॉप न्यूज़

दुर्घटना या साजिश: BRD मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल ऑफिस में लगी आग, दस्तावेज खाक

BRD मेडिकल कॉलेज में लगी आग

गोरखपुर: जनपद के बाबा राघव दास मेडिकल कालेज में आज तड़के आग लगने से हड़कम्प मच गया। आग कालेज के प्राचार्य ऑफिस की बिल्डिंग में लगी जिसकी लपटों ने BRD मेडिकल कालेज के प्राचार्य ऑफिस के दस्तावेज और फर्नीचर जलकर खाक कर दिया।फ़िलहाल पूरे मामले पर जांच की जा रही है।

बता दें कि हमेशा विवादों से दो-चार रहने वाले गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कालेज में पिछले वर्ष अगस्त माह में हुई मासूमो की मौत से राजनीतिक सरगर्मियां बढ़ गयी थी। जिसे सरकार ने येन केन प्रकारेण शांत करने की कोशिश किया,किन्तु उसकी लपटें अभी कम होती कि आज सुबह फिर से इस भयंकर आग ने एक बार फिर विरोधियों को राजनीतिक रोटी सेंकने का मौका दे दिया।

गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज की एक बिल्डिंग में अचानक तड़के सुबह आग लग गई। आग बढ़कर भयंकर रुप धारण करते हुए मेडिकल कॉलेज प्रिंसिपल के ऑफिस के कमरे तक पहुंच गई। इससे मेडिकल कॉलेज परिसर में भगदड़ मच गई सभी अपनी जान को जाते हुए इधर-उधर भागने लगे। मौके पर मौजूद स्थानीय लोगों तथा मेडिकल कॉलेज कर्मचारियों ने आग बुझाने की भरपूर कोशिश की।

किन्तु कामयाबी ना मिलने पर पुलिस और फायर ब्रिगेड को सूचना दिया गया,सूचना पर पहुंची फायर ब्रिगेड की कोशिशों के बाद आग पर काबू पाया जा सका। हालांकि इस घटना में कितना नुकसान हुआ है। इसकी पुष्टि अभी मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने नहीं की हैl आज सुबह मेडिकल कॉलेज में लगी आग अब संदेह के दायरे में आ गई है लोगों के बीच तरह तरह की चर्चाएं भी शुरू हो गई हैl

लोगों का कहना है कि कहीं इस आग के सहारे ऑक्सीजन की कमी से हुई बच्चों की मौत से संबंधित फाइल को रिकॉर्ड से हटाने के लिए तो नहीं लगाई गई या किसी को बचाने के लिए इस तरह का कांड को अंजाम दिया गया है । सबसे बड़ी बात है आग लगने के तत्काल बाद ही कालेज के जिम्मेदारों को जानकारी दी गई पर वह भी विलंब से पहुंचे, उसके बावजूद आग पर काबू पा लिया गया।

किंतु अब यह जांच का विषय है आग केवल फाइलों में ही क्यों लगी और फाइल जलने के बाद ही तुरंत आग पर काबू पा लिया गया।अब जहाँ इस मामले पर जिम्मेदार बचते नजर आ रहे है वही पुलिस जांच की बात कह रही है।वहीँ पुरे मामले पर सपा के जिलाध्यक्ष प्रह्लाद यादव ने कहा कि ये आग जानबूझ कर लगाई गई प्रतीक होती है ।क्योंकि आग प्रिंसिपल रूम में ही क्यों लगी जहाँ जरुरी दस्तावेज ही रखे जाते है ।

हलाकि जली फाइलों में जांच वाली फ़ाइल थी या नहीं इस बात पर अभी भी कोई बोलने को तैयार नही है। अभी केवल जांच की बात कही जा रही है।

डीएम ने एडीएम सिटी रजनीश चन्द्र को फाइलों की जांच और आग लगने के कारणों की जांच चीफ फायर ऑफिसर को सौंपी है वहीँ कांग्रेस के राणा राहुल सिंह और सपा के प्रह्लाद यादव ने आग लगने को सुनियोजित बताया।

Related Posts

दुर्घटना या साजिश: BRD मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल ऑफिस में लगी आग, दस्तावेज खाक