April 18, 2018
टॉप न्यूज़

गुलरिहा में महंगा पड़ा खुले में शौच करना, पति और जेठ पिटाई से घायल

गुलरिहा में महंगा पड़ा खुले में शौच

गोरखपुर: प्रशासन भले चाहे जिले को ओडीएफ करने के कितने भी दावे कर ले,किन्तु सत्यता के धरातल पर स्थितियां इसके विपरीत हैं।आज भी जिले के कई गावँ इस से कोसो दूर हैं। ताजा मामला गुलरिहा थाना क्षेत्र के अशरफपुर गांव का है,जहां एक पति को अपनी पत्नी को दैनिक क्रिया हेतु गावँ के सिवान में ले जाना महंगा पड़ गया और गांव के स्वच्छता समिति के युवकों द्वारा पिटाई का मामला सामने आ गया।

कुछ दिन पहले एक फिल्म आई थी टॉयलेट एक प्रेम कथा घर में शौचालय ना होने की वजह से फ़िल्म का नायक पत्नी को नित्य क्रिया के लिए रोज गांव से दूर ले जाता है। इस समस्या से निजात पाने के लिए नायक गांव में शौचालय बनवाने के लिए संघर्ष शुरू करता है और अंत में कामयाब भी होता है ।

लेकिन गुलहरिया क्षेत्र के अशरफ पुर निवासी महेंद्र निषाद और उनके बड़े भाई को घर में शौचालय न होना भारी पड़ गया। अशरफ पुर गांव नीरनिर्मल परियोजना के तहत खुले में शौचालय से मुक्त घोषित किया गया है। लेकिन महेंद्र निषाद के घर में शौचालय नहीं है।  विश्व बैंक और केंद्र सरकार की संयुक्त टीम इस गांव में निरीक्षण करने आने वाली थी।इसको देखते हुए गांव के पुरुषों महिलाओं और युवकों की निगरानी समितियां भोर से ही आबादी के आसपास तथा खेतों की तरफ सीटी बजाते हुए गस्त कर रही थी।

महेंद्र निषाद की शादी पिछले साल नवंबर में हुई थी। भोर में गांव के बाहर निगरानी समितियों के सक्रिय होने की वजह से पत्नी को वह बाइक से बगल के गांव फुलवरिया घुसवा टोली में नित्यक्रिया के लिए ले गए थे। उस समय फुलवरिया गांव के युवक वर्जिश करने निकले थे।विवाहिता को युवक के साथ खेत के बीच देख कर उन्हें संदेह हुआ।

उन्होंने महेंद्र पर हमला कर घायल कर दिया, उसकी पत्नी के फोन करने पर महेंद्र के बड़े भाई देवेंद्र पहुंचे तो युवकों ने उन पर भी हमला कर दिया। जिससे उनका सिर फट गया।किसी तरह से महेंद्र ने पत्नी व बड़े भाई के साथ वहां से भाग कर जान बचाई। इसके बाद उन्होंने इसकी जानकारी पुलिस को दी। पुलिस सूचना पाते ही मौके पर पहुंची महेंद्र की तहरीर पर मारपीट का मुकदमा दर्ज कर लिया दो लोगों को हिरासत में भी ले लिया गया है।

महेंद्र की पत्नी ने बताया कि हमारे घर में शौचालय ना होने के कारण हम रोज नित्यक्रिया के लिए जाते थे। लेकिन कुछ उचक्कों ने हमारे पति जेठ को और हमें मारा-पीटा और गालियां दी इसमें हमें भी चोटे आयी हैं।  हालांकि हम लोगों ने इस मामले की जानकारी पुलिस को भी दे दी है। और पुलिस ने 2 लोगों को गिरफ्तार भी कर लिया है। हमारे घर में अभी शौचालय बनाने का काम भी चल रहा है।

Related Posts

गुलरिहा में महंगा पड़ा खुले में शौच करना, पति और जेठ पिटाई से घायल