April 18, 2018
गोरखपुर

‘बुद्धालैंड’ राज्य निर्माण की मांग को जिले के 19 ब्लॉकों से उठी हजारो आवाजें, प्रदर्शन

बुद्धालैंड राज्य निर्माण की मांग धरना-प्रदर्शन

गोरखपुर: पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार पूर्वांचल सेना के नेतृत्व में गोरखपुर के 19 ब्लॉकों पर बुद्धालैंड राज्य निर्माण की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन हुआ। पूर्वांचल सेना ने बुद्धालैंड “अलग राज्य निर्माण आंदोलन” को गांव-गांव तक पहुंचाकर बुद्धालैंड अलग राज्य के लिए व्यापक जन समर्थन जुटाने की रणनीति के तहत ब्लाको पर प्रदर्शन किया है।

बता दें कि आज जनपद के 19 ब्लाको पर हुए प्रदर्शन में क्षेत्रीय जनता ने बढ़ चढ़ कर हिस्सेदारी लेते हुए अलग राज्य की मांग की गोरखपुर  जनपद  के जिलाध्यक्ष  सुरेंद्र वाल्मीकि ने बताया कि केंद्रीय अध्यक्ष धीरेन्द्र प्रताप के नेतृत्व में पूर्वी उत्तर प्रदेश को अलग राज्य का दर्जा दिलाए जाने की मांग को लेकर को पूर्वांचल सेना  वर्ष 2006 से संघर्षरत है।

बुद्धालैंड राज्य निर्माण

बुद्धालैंड राज्य निर्माण

सेना ने अब इस आंदोलन को जन जन तक पहुंचा कर अलग राज्य की मुहिम में जनता की भागीदारी सुनिश्चित करने के उद्देश्य से इस आंदोलन को नए कलेवर में शुरू  किया है। जिसके अंतर्गत पूर्वांचल सेना द्वारा विगत 1 जनवरी को गोरखपुर में विराट प्रदर्शन कर पूर्वी उत्तर प्रदेश को बुद्धालैंड के नाम से अलग राज्य घोषित करने की  मांग की गई थी।

इसी क्रम में आज गोरखपुर के समस्त ब्लॉकों पर धरना- प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंप प्रधानमंत्री से राज्य पुनर्गठन अधिनियम लाकर उत्तर प्रदेश का बंटवारा करके पूर्वी उत्तर प्रदेश के 27 जिलों को बुद्धालैंड नाम से अलग राज्य बनाने की मांग की है।

बुद्धालैंड राज्य निर्माण

बुद्धालैंड राज्य निर्माण

उन्होंने बताया कि गोरखपुर के समस्त ब्लॉकों पर  प्रदर्शन की जिम्मेदारी ब्लाक अध्यक्ष-महासचिव रविंद्र गौतम, सुनील पासवान,रणविजय कपूर,आयुष्मती,राज कुमारी बौद्ध, विजय पुष्प भारती, सोनू सिद्धार्थ, सागर पासवान, कमलेश  कुमार, नीरजअंबेडकर, सोनू सिद्धार्थ, अमरजीत गौड़, विष्णु वर्मा,  दिग्विजय दाढ़ी, कृष्ण मुरारी,सुमित सिद्धार्थ,  मंजेश कुमार, संजय  यादव, सुनील यादव,जनार्दन पासवान, सुग्रीव मौर्य, कुणालकुमार, प्रशांत मोदनवाल विवेक वर्मा, ईन्दू वर्मा, कृष्णानंद , अमर जीत भारती द्वारा हुआ।

बुद्धालैंड राज्य निर्माण

बुद्धालैंड राज्य निर्माण

ब्लाको पर पूर्वांचल सेना के केंद्रीय कार्यकारिणी के सदस्य प्रणय श्रीवास्तव, सुधीर मोदनवाल, फिरदौस खान, विनोद वर्मा, सुनील चौहान, राजकुमार, सोनू बौद्ध, सचिन पासवान, रीमा श्रीवास्तव, जानकी देवी दिशा-निर्देश हेतु मौजूद रहे।

Related Posts

'बुद्धालैंड' राज्य निर्माण की मांग को जिले के 19 ब्लॉकों से उठी हजारो आवाजें, प्रदर्शन