April 18, 2018
टॉप न्यूज़

VIDEO: झंगहा क्षेत्र में व्यवसायी की हत्या के विरोध में शव को सड़क पर रख लगाया जाम

झंगहा  हत्या के विरोध में शव को सड़क पर रख लगाया जाम

गोरखपुर: जनपद के झंगहा क्षेत्र के नई बाजार में रविवार को दुकान में घुसकर व्‍यवसायी दिनेश गुप्‍त को गोलियों से भून देने की घटना से लोगों का गुस्‍सा भड़क उठा है। सोमवार सुबह से ही लोगों ने शव को सड़क पर रखकर नई बाजार में जाम लगा दिया था।लोगों के आक्रोश को देखते हुए मौके पर भारी संख्‍या में पुलिस बल, वज्र वाहन और पीएसी के जवान तैनात थे।

जबकि स्थिति की संवेदनशीलता देखते हुए एसपी नार्थ, सीओ गोरखनाथ, कैम्पियरगंज, चौरीचौरा, एसओ चौरीचौरा, झंगहा मौके पर मौजूद थे।

बताया जा रहा है कि व्‍यवसायी दिनेश गुप्‍त की हत्‍या सिर्फ छह इंच जमीन के लिए हो गई। पुलिस ने इस मामले में अब तक दो लोगों को गिरफ़तार किया है। मुख्‍य आरोपी मनीष यादव की  गिरफ़तारी के लिए देवरिया, गोरखपुर और अन्‍य स्‍थानों पर पुलिस ताबड़तोड़ छापामारी कर रही है। उस पर 15 हजार रुपए का इनाम भी घोषित किया गया।

गौरतलब है कि झंगहा क्षेत्र के नई बाजार चौराहे पर रविवार को दिन में करीब दो बजे हार्डवेयर की दुकान में घुसकर दो बदमाशों ने 40 वर्षीय व्यवसायी दिनेश गुप्ता को गोलियों से भून दिया था। व्यापारी के सीने में ताबड़तोड़ चार गोलियां उतारने के बाद दुकान के बाहर खड़े एक युवक की बाइक लूट कर तमंचा लहराते हुए फरार हो गए।
गोली लगने के बाद खून से लथपथ व्यवसायी को मेडिकल कालेज ले जाया गया।जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। सूचना पर एसएसपी सहित अन्य पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए। रविवार को भी घटना से गुस्साए व्यापारियों ने दुकाने बंद कर और सड़क जाम कर अपना विरोध जताया।जिसे देखते हुए एहतियातन बाजार में फोर्स लगा दी गई।

बताते चलें कि नई बाजार ब्लाक रोड निवासी सतई गुप्ता के बेटे दिनेश गुप्ता की नई बाजार चौराहे पर हार्डवेयर की दुकान है। दोपहर में वे दुकान पर बैठे थे। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक दुकान के अन्दर जाते हुए किसी ने बदमाशों को नहीं देखा। गोली की आवाज सुनकर जब वे लोग दुकान की ओर दौड़े तो गमछा से मुंह बांधे हाथ में तमंचा लहराते हुए दो युवक बाहर निकले। दुकान के बाहर बाइक के साथ खड़े ब्रम्हपुर निवासी रमाशंकर मौर्या की कनपटी पर तमंचा लगाकर उसकी बाइक लूट ली।

बाइक के साथ युवक को भी अगवा कर ब्लाक रोड पर डॉ भीमराव अम्बेडकर स्कूल तक ले गए। स्कूल के सामने रमाशंकर मौर्या को थप्पड़ मार कर उतार दिए और उसकी बाइक लेकर फरार हो गए।खून से लथपथ व्यवसायी को तत्काल ब्रम्हपुर पीएचसी ले जाया गया। हालत गंभीर बताकर डॉक्टरों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया। पर उन्हें सीधे मेडिकल कालेज ले जाया गया। मेडिकल कालेज के डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

घटना से आक्रोशित व्यवसाईयों ने अपनी दुकानें बन्द कर सड़क पर बेंच व स्टूल रख जाम कर दिया था। करीब आधे घण्टे तक यह जाम रहा। सूचना के बाद में पहुंची पुलिस ने जाम कर रही भीड़ को समझा-बुझा कर शांत कराया। घटना की सूचना पर एसएसपी सत्यार्थ अनिरूद्ध पंकज, एसपी नार्थ गणेश साहा, सीओ गोरखनाथ प्रवीण सिंह, सीओ कैम्पियरगंज आशुतोष सिंह, एसओ झंगहा सुनील सिंह के अलावा चौरीचौरा, पिपराईच की पुलिस फोर्स मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने मौके से तीन बाइक व तीन लोगों को हिरासत में लिया है।

दिनेश की हत्या जिस तरह से दुस्साहसिक तरीके से की गई है उससे नई बाजार ही नहीं आस-पास के कस्बे के व्यापारियों में खौफ है। दुकान में घुसकर व्यापारी को गोली मारने की वारदात के बाद कस्बे में सन्नाटा छा गया है। उधर दिनेश गुप्ता के परिवार में कोहराम मच गया। पांच भाई और चार बच्चों के पिता दिनेश के घर महिलाओं और पुरुषों का रो-रो कर बुरा हाल है।

दिनेश गुप्ता पांच भाइयों में चौथे नम्बर पर थे। सबसे बड़े दीनदयाल गुप्ता दूसरे नम्बर पर दीनानाथ गुप्ता तीसरे पर दीनबन्धु गुप्ता और चौथे पर दिनेश गुप्ता तथा सबसे छोटे रामदरस गुप्ता हैं। दिनेश के चार बच्चे हैं जिनमें दो बेटे और दो बेटियां। बेटी अर्पिता गुप्ता (15) सबसे बड़ी है। दूसरे नम्बर पर परी गुप्ता (13) तीसरे पर बेटा आंश गुप्ता (10) और सबसे छोटा बेटा अमन गुप्ता छह महीने का है। दिनेश की हत्या के बाद परिवार में कोहराम मच गया है। पत्नी रीमा गुप्ता, मां मुनरी गुप्ता व उनके बच्चों का रो-रो कर बुरा हाल है।दिनेश और उनके भाई तथा पिता सभी अलग-अलग व्यापार से जुड़े हैं। सभी नई बाजार में ही व्यापार करते हैं।

नई बाजार चौराहे पर पिता सतई गुप्ता की कपड़े की दुकान है। दिनेश की हार्डवेयर की दुकान है। दीनदयाल किराना की दुकान चलाते हैं। दीनानाथ की रेडीमेड होजरी का व्यवसाय करते हैं। दीनबन्धु सीमेंट सीट के व्यवसाई हैं। रामदास कॉपी किताब की दुकान चलाते हैं।

Related Posts

VIDEO: झंगहा क्षेत्र में व्यवसायी की हत्या के विरोध में शव को सड़क पर रख लगाया जाम