April 18, 2018
टॉप न्यूज़

सीएम योगी ने किया पथ प्रकाश व्यवस्था, गीडा कार्यालय और वेबसाइट का लोकार्पण

सीएम योगी ने किया पथ प्रकाश व्यवस्था

गोरखपुर: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बजट सत्र शुरू होने के बाद आज गोरखपुर जनपद के सहजनवां विधानसभा क्षेत्र में दो जनसभा को संबोधित किया। वहीँ योगी ने सहजनवां के हरदी गांव में राजकीय पालीटेक्निक का शिलान्यास किया। उसके बाद सेक्टर गीडा परिसर में नव निर्मित गीडा कार्यालय गीडा की बेवसाइट्स एवं ग्राम नौसढ़ से कालेसर तक पथ प्रकाश व्यवस्था का लोकार्पण  किया।

इस अवसर मुख्यमंत्री ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि हमें 10 महीने हुए हैं ,पर विकास के अनेक योजनाएं हमने बनाई है। गोरखपुर में 26 साल पहले बन्द हुए खाद कारखाने की शुरुअात, एम्स की शुरुअात केंद्र सरकार ने दी है। विकास की योजना का लाभ अंतिम व्यक्ति तक मिले इसलिए प्रयास चल रहा है।

योगी ने कहा कि सामान्य दिनों में आमी नदी में काफी प्रदूषण है। इस नदी ने यहां के मछुवारों, किसानों गो पालकों को नया जीवन देने का काम किया था। सही मायने में विकास करना है तो गांवों से पलायन रोकना होगा।सपा की सरकार में जब हम लोगो ने बूचड़खाना गोरखपुर में बंद करवाया तो इस जगह पर बूचड़खाना खोलने का प्रस्ताव हुआ था,पर अब मुझे ख़ुशी है कि अब यहां पॉलिटेक्निक कालेज खुल रहा है। यूपी इन्वेस्टर समिट हर क्षेत्र में विकास की नई पहल है। पिछली सरकारों की सोच थी कि मारकाट करो, उनकी सोच बूचड़खाने की थी, वो इससे ऊपर नहीं उठ पाये पर हमारी सोच विकास की है। विकास की जो भी जरूरत हैं वो एक एक करके दिया जा रहा है। विकास पिछली सरकार में नही होता था । इसलिए उससे जुड़े लोग मारपीट और लूट पाट करते थे ।और उनको सत्ता का संरक्षण मिलता था।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि खलीलाबाद मगहर की कताई मिल चलती तो यहा के लोगों को रोजगार मिलते। यहाँ रोजगार के अवसर कराने के कोई अवसर नही उपलब्ध कराये। सिर्फ अपना विकास किया गया। अब बूचड़खाने नहीं खुलेंगे विकास के काम होंगे। योगी ने कहा कि एक चीनी मिल 1500 नौजवानों को नौकरी और 30 हजार किसानों को उनकी उपज का सही दाम देती है। बंद चीनी मिलो को खुलवाकर हम यहाँ के किसानों के चेहरे पर मुस्कान ला सकें, यही प्रयास है। चीनी मीलों की नीलामी में कुछ लोगोंने पैसे खाये हैं और इनकी जगह जेल में होना चाहिए। हमारा प्रयास है कि 5500 स्थानों पर हम गेहू क्रय केंद्र खोलेंगे। विकास का कोई विकल्प नहीं हो सकता। जो समाज के विकास में बाधक है ऐसे किसी व्यक्ति को आगे नही बढ़ाना चाहिए।

जब हमने यहां बूचड़खाने का आंदोलन किया तो काफी लड़ाई लड़ी गयी, हर नौजवान बूचड़खाना नहीं चाहता था और आज बीजेपी इसकी जगह विकास के लिए पॉलिटेक्निक दे रही है। 2022 में हमारा देश प्रदेश कैसा हो, इसको आपको तय करना है। हमे एक ऐसा समाज चाहिए जिसकी सोच में विकास और राष्ट्रभक्ति हो। जल्द ही प्रधानमंत्री लखनऊ गोरखपुर बलिया को एक्सप्रेसवे से जोड़ने का काम शरू होगा।इसका शिलान्यास खुद प्रधानमंत्री मोदी जी करेगे।

वही गीडा परिसर में नव निर्मित गीडा कार्यालय, गीडा सेक्टर सात में 7.50 करोड़ रुपये की लागत से बने गीड़ा के नए कार्यालय भवन,  3.39 करोड़ रुपये से नौसढ़-कालेसर स्ट्रीट लाइट परियोजना का भी मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने लोकार्पण किया।

Related Posts

सीएम योगी ने किया पथ प्रकाश व्यवस्था, गीडा कार्यालय और वेबसाइट का लोकार्पण