April 17, 2018
टॉप न्यूज़

शिक्षकों से दुर्व्यवहार मामले में ठप रहा बोर्ड परीक्षा की कापियों का मूल्यांकन कार्य

शिक्षकों से दुर्व्यवहार मामले में ठप रहा बोर्ड परीक्षा की कापियों का मूल्यांकन कार्य

गोरखपुर: बीते मंगलवार को यूपी बोर्ड परीक्षा की कापियों के मूल्याकन के दौरान टीडीएम कालेज में अव्यवस्था की शिकायत करने पर शिक्षकों से पुलिस क्षेत्राधिकारी की नोंक झोंक मामले में शिक्षकों ने कड़ा रुख अख्तियार करते हुए मूल्यांकन कार्य का बहिष्कार कर दिया।जिसमें आज सुबह शिक्षक नेताओं द्वारा डीएम से मुलाकात कर आरोपी सीओ के खिलाफ कार्यवाही की मांग की गई।

इस मामले में बवाल बढ़ता देख एसपी ने शिक्षकों से सीओ के बर्ताव को लेकर खेद प्रकट किया।किन्तु शिक्षक कार्यवाही की मांग पर अड़े हैं।हालांकि इस प्रकरण से कापियों का मूल्यांकन कार्य दो दिन बाधित रहा।

बता दें कि बीते मंगलवार को बोर्ड की कापियों का मूल्यांकन केंद्र बने तुलसी दास इंटर कालेज में बिजली, पानी, शौचालय की समस्या व गेट में ताला बंद करने के विरोध में शिक्षकों ने प्रदर्शन कर मूल्याकन का बहिष्कार किया था। अधिकारियों के आश्वासन पर वे वापस मूल्याकन करने को राजी हो गए थे, लेकिन दोपहर बाद सिटी मजिस्ट्रेट के साथ पहुंचे पुलिस क्षेत्राधिकारी तारकेश्वर पाडेय ने शिक्षकों से बातचीत के दौरान कड़ा रुख अपनाया।

सीओ ने ड्यूटी पर तैनात दरोगा से शिक्षकों का मोबाइल चेक करने को भी कहा था।जिसकी सूचना अन्य शिक्षकों को लगी तो उन्होंने आक्रोश जताया और सभी शिक्षक संगठनों ने मूल्याकन का बहिष्कार कर दिया।इसे देखते हुए बुधवार की सुबह शिक्षक एमएलसी ध्रुव कुमार त्रिपाठी के तुलसीदास इंटर कालेज पहुंचने पर आदोलन तेज हो गया। सभी केंद्र से शिक्षक वहा पहुंचने लगे और एमएलसी से अपनी बात बताई।

एमएलसी श्री त्रिपाठी ने बताया कि तुलसीदास इंटर कालेज केंद्र के उप नियंत्रक से अव्यवस्था की शिकायत की गई तो उन्होंने कुछ नहीं सुना। अव्यवस्था दूर करने की बजाय जिला व पुलिस प्रशासन को बुलाकर शिक्षकों से दु‌र्व्यवहार कराया। सीओ ने हमारे कई शिक्षकों को जेल भेजने की धमकी दी थी। हमारी माग पर उपनियंत्रक को बदल दिया गया है। सीओ की गलती पर एसपी सिटी ने माफी मांगी है। सीओ पर कार्रवाई के लिए कल तक का समय दिया जा रहा है। शिक्षक गुरुवार को मूल्याकन कार्य करेंगे।

इस अवसर पर उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ शर्मा गट के प्रदेश मंत्री यशवंत सिंह, मण्डल मंत्री ज्ञानेश कुमार राय, जिलाध्यक्ष दिग्विजय नाथ पाडेय, मंत्री आरपी चंद, राष्ट्रीय शैक्षिक महासभा के ज्ञानेंद्र सिंह, ठकुराई गट के विजय शकर सहित पाडेय व चेतनारायण गट के पदाधिकारी मौजूद रहे।

Related Posts

शिक्षकों से दुर्व्यवहार मामले में ठप रहा बोर्ड परीक्षा की कापियों का मूल्यांकन कार्य