April 17, 2018
गोरखपुर

वित्तविहीन शिक्षकों की मांग को लेकर गोरखनाथ मन्दिर पर कल से आमरण अनशन करेंगे स्वामी राजवीर सिंह

वित्तविहीन शिक्षकों की मांग को लेकर गोरखनाथ मन्दिर पर कल से आमरण अनशन करेंगे स्वामी राजवीर सिंह

गोरखपुर: प्रदेश सरकार द्वारा निराकरण ना किए जाने से उत्तर प्रदेश माध्यमिक वित्तविहीन शिक्षक संघ के प्रदेश संगठन मंत्री स्वामी राजवीर सिंह वित्तविहीन शिक्षकों की मांगों को लेकर 31 मार्च को गोरखनाथ मंदिर गेट के सामने आमरण अनशन पर बैठेंगे। उक्त बातें उत्तर प्रदेश माध्यमिक वित्तविहीन शिक्षक संघ के प्रदेश मीडिया प्रभारी सत्येंद्र प्रकाश त्रिपाठी ने प्रेस वार्ता के दौरान बताई।

प्रेस वार्ता के दौरान स्वामी राजवीर सिंह ने बताया कि वित्तविहीन शिक्षकों द्वारा पूरे प्रदेश में लगातार 14 दिनों से मूल्यांकन बहिष्कार कर समान कार्य का समान वेतन, पदों का सृजन व अनुमोदन, प्रदेश के 20000 से ऊपर माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा मान्यता प्राप्त वित्तविहीन शिक्षकों को नियमितीकरण की मांग की जा रही है।किंतु सरकार द्वारा उसका निराकरण नहीं किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि वह भी गोरखनाथ के अनुयाई हैं,दत्तात्रेय को अपना आराध्य मानते हैं, और जिला अमरोहा में ग्राम दहकवाड़ा में गोरखनाथ आश्रम के महंत है । प्रदेश के योगी सरकार से बहुत आशा थी कि यह सरकार वित्तविहीन विद्यालयों के शिक्षकों, शिक्षणेत्तर कर्मचारियों का कल्याण करेगी।लेकिन पूर्व सरकार ने जो मानदेय दिया था ,उसे भी इस सरकार ने छीन लिया। राजवीर सिंह ने कहा कि जब तक सरकार पद सृजन पर लगी रोक को नहीं हटाएगी और विभाग द्वारा अनुमोदन नहीं करेगी तथा सम्मानजनक मानदेय देने का वादा नहीं करेगी। तब तक मेरा आमरण अनशन जारी रहेगा ।

संघ के प्रदेश अध्यक्ष ओम प्रकाश बागी ने कहा कि प्रदेश के 3:50 लाख शिक्षकों, शिक्षणेत्तर कर्मचारी शोषण व गुलामी का जीवन व्यतीत कर रहे हैं।इनकी हालत मनरेगा के मजदूरों से बदतर है।स्वामी जी द्वारा चलाए जा रहे आमरण अनशन का संगठन भरपूर सहयोग करेगा।

इसी क्रम में प्रदेश मीडिया प्रभारी सत्येंद्र प्रकाश त्रिपाठी ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार के अंदर संविधान व लोकतांत्रिक मूल्यों की थोड़ी सी भी नैतिकता हो तो संगठन के प्रतिनिधियों से वार्ता कर इसका निराकरण करें।

Related Posts

वित्तविहीन शिक्षकों की मांग को लेकर गोरखनाथ मन्दिर पर कल से आमरण अनशन करेंगे स्वामी राजवीर सिंह