Crime New Hindi in Gorakhpur - Gorakhpur Final Report

GFR DeskNovember 20, 2017
Image-for-representation-24.jpg

गोरखपुर: महानगर के पादरी बाजार में सामान खरीदने आई छात्रा से कुछ शोहदो ने छेड़छाड़ शुरू कर दी। जब परिजनों ने इसका विरोध किया तो उन्होंने घर में घुस कर परिजनों से मारपीट की।

सूचना मिलने पर पहुंची स्थानीय पुलिस ने एक युवक को हिरासत में लिया है।

लड़की विश्वविद्यालय के विधि संकाय की छात्रा है। जानकारी के अनुसार छात्रा किसी सामान लेने के लिए वह दुकान पर जा रही थी उसी समय रास्ते में शोहदों ने छेड़खानी शुरू कर दी।

घटना के बाद आसपास लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई जिसके बाद युवक मौके से फरार हो गया।

कुछ देर बाद उसने छात्रा के घर पहुंचकर परिजनों पर हमला बोला और धमकाया भी। मामले में एक आरोपी को हिरासत में लिया गया है।


GFR DeskNovember 19, 2017
IMG-20171119-WA0010.jpg

गोरखपुर: जनपद के बड़हलगंज कोतवाली क्षेत्र के पटवा गांव स्थित प्राथमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक ने पढ़ते हुए कक्षा 3 के छात्र को उसका सिर दीवाल से टकराकर फोड़ दिया। छात्र के पिता की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत कर लिया है।

मामला शनिवार का है पुलिस को दिए तहरीर गांव के डॉक्टर नील शरण विश्वास ने लिखा है कि मेरा 6 वर्षीय पुत्र महानंद गांव के प्राथमिक विद्यालय में कक्षा 3 का छात्र है, कक्षा में अध्यापक के नहीं होने के कारण बच्चे शोर मचा रहे थे। उसी समय वहां प्रधानाध्यापक गणेश दत्त शुक्ल आते ही बिना कुछ पूछे मेरे बच्चे को डंडे, लाल, गुस्से से पीटने लगे, वह चिल्लाता रहा। उसका सिर पकड़कर दीवार से टकरा दिया, जिस से सिर फट गया।

मैं जब इसकी शिकायत करने विद्यालय गया तो प्रधानाध्यापक ने मुझे अपशब्द कहते हुए जान से मारने की धमकी दी और मुझे व मेरे बेटे को विद्यालय से भगा दिया। जिससे वह काफी भयभीत है, वही गांव के ग्राम प्रधान हृदय शंकर सिंह ने बताया कि प्रधानाध्यापक की शिकायत ग्राम वासियों से मिलती रहती है काफी दिनों से एक ही स्थान पर जमे हुए हैं हम लोगों इसकी शिकायत जिलाधिकारी सहित शिक्षा विभाग के अधिकारियों से इनके स्थानांतरण करने पर जांच कर कार्रवाई करने की मांग करेंगे

वही इस संबंध में प्रधानाध्यापक गणेश शुक्ला का कहना है कि बच्चे आपस में झगड़ा कर रहे थे, जिस से उस बच्चे को चोट लग गई मैं तो सिर्फ झगड़ा छुड़ाने गया था।


GFR DeskNovember 16, 2017
Image-for-representation-1-4.jpg

गोरखपुर: जनपद के पीपीगंज थाना क्षेत्र में एक नाबालिग युवती के साथ बलात्कार का मामला सामने आया है।

जानकारी के अनुसार पीपीगंज थाना क्षेत्र के एक गाँव में दो दिन पूर्व भोर में शौच के लिए घर से निकली दलित किशोरी को गाव के ही इंजीनियरिंग के छात्र ने जबरिया अगवा कर हास्टल में ले जाकर बलात्कार किया।

परिजनो ने पीपीगंज पुलिस को तहरीर देकर युवक के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने आरोपी युवक शैलेश कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। मामले की जांच पडताल जारी है।


GFR DeskNovember 16, 2017
Image-for-representation-19.jpg

गोरखपुर: जनपद के खजनी थाने के गाजरबंशम गाव में बीती शाम 6 बजे के करीब गांव के ही कुछ दबंगों ने एक युवक को पीट-पीट कर लहूलुहान कर दिया। गंभीर रूप से घायल युवक का इस समय महानगर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में इलाज चल रहा है जहाँ उसकी हालत नाजुक बानी हुई है।

जानकारी के अनुसार गाँव के ही दबंग अम्बुज, नरसिंह आदि ने अपने दोस्तों के प्रदुम्न के घर में घुसकर उसे मार पीट कर लहुलुहान कर दिया। घटना में प्रदुम्न का हाथ टूट गया और उसे गंभीर चोट भी आयी।

ग्रामीणों द्वारा घायल युवक को प्राथमिक उपचार के लिए पीएचसी लाया गया। जहाँ पर डाक्टरों ने उसे मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर कर दिया। घायल प्रदुम्न की हालत चिन्ताजनक बताई जा रही है।

परिजनों की तहरीर पुलिस ने दबंगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया।


GFR DeskNovember 16, 2017
Girl-beaten-by-goons-in-Gorakhpur-1280x720.jpeg

गोरखपुर: महानगर में छेड़खानी का विरोध करने पर शोहदों द्वारा एक युवती को जमकर पीटने का मामला सामने आया है। इस दौरान बचाव करने गयी युवती की बड़ी बहन को भी दबंगों ने पीटा है।

बताया जा रहा है कि छत पर खड़ी महिलाओं को देख शोहदे अश्लील हरकत कर रहे थे। जिस पर युवती ने शोहदे की मां से इसकी शिकायत की थी। युवती की शिकायत करना युवक को नगावर गुजरा। दबंग शोहदे ने अपने भाईयों के साथ मिलकर पहले तो युवती के घर पहले पत्थरबाजी की।

वहीं युवती ने जब इसका विरोध किया तो शोहदे ने अपने भाईयों के साथ मिलकर युवती की पिटाई की। इस दौरान शोहदों ने युवती की बड़ी बहन को भी पीटा है। पड़ोसियों ने किसी तरह मामला शांत कराया है।

घटना बीते रविवार की शाम का है। दिलचस्प है कि शोहदों की करतूत का वीडियो वायरल होने से पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। शोहदों की दबंगई का वाक्या शहर के तिवारीपुर थाना के भरपुरवा इलाके का है। जहां रविवार को अंसार स्कूल के पास स्थित मकान की छत पर खड़ी महिलाओं को देख मोहल्ले का इरशाद अश्लील हरकत कर रहा था।

जिस पर युवती ने इरशाद के परिजनों से इसकी शिकायत की थी। युवती की शिकायत पर भड़के शोहदे ने अपने भाईयों के साथ मिलकर युवती के घर पर पत्थरबाजी करने के साथ ही उसकी पिटाई कर दी है। फिलहाल पुलिस ने आरोपी शोहदों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। हालांकि केस दर्ज करने के बावजूद आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो पायी है।


GFR DeskNovember 13, 2017
Image-for-representation-16.jpg

गोरखपुर: वर्तमान समय मे मुन्ना भाइयों की पहुंच हर प्रतियोगी परीक्षाओं तक हो रही है। इसी क्रम में रविवार को आयोजित हाईकोर्ट की ग्रुप सी और डी की परीक्षा का पेपर व्हाट्स एप से साल्व कराकर नकल कराने और अभ्यर्थी की जगह दूसरे से पेपर दिलवाने के आरोप में एसटीएफ ने 13 लोगों को गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार किए गए लोगों में दूसरे की जगह परीक्षा दे रहा युवक, विद्यालय प्रबंधक और साल्वर भी शामिल हैं।

बता दें कि रविवार को आयोजित हाई कोर्ट ग्रुप सी और डी की परीक्षा के लिए गोरखपुर में 23 केंद्र बनाए गए थे। पहली पाली की परीक्षा सभी केंद्रों पर हुई और दूसरी पाली की परीक्षा आठ केंद्र पर कराई गई थी। एसटीएफ को परीक्षा में नकल कराने के लिए एक गैंग के सक्रिय होने की सूचना मिली थी।

खासकर गोरखपुर के परीक्षा केंद्रों पर लिहाजा अपर पुलिस अधीक्षक एसटीएफ अरविंद चतुर्वेदी ने इंस्पेक्टर सत्य प्रकाश सिंह के नेतृत्व में लखनऊ और गोरखपुर यूनिट की संयुक्त टीम गठित कर गैंग का पर्दाफाश करने का निर्देश दिया था। इस टीम ने रविवार को सुबह दस बजे के आसपास कैंट क्षेत्र में हरिओम नगर तिराहे के पास एक कोचिंग सेंटर के सामने से गैंग के साल्वर सहित दस सदस्यों को गिरफ्तार किया।

इसके बाद शाहपुर में बापू इंटर कालेज गंगानगर में तलाशी में दूसरे की जगह परीक्षा दे रहे युवक को पकड़ा। उसके बाद पिपराइच के बैलों में बीएम सिंह पब्लिक मेमोरियल स्कूल में छापेमारी कर प्रबंधक और एक कक्ष निरीक्षक को गिरफ्तार किया।

एसटीएफ ने बीएम सिंह मेमोरियल पब्लिक विद्यालय पिपराइच के प्रबंधक संजय सिंह का मोबाइल जब्त किया तो पता चला कि व्हाट्स एप की मदद से पेपर सॉल्व कराए जा रहे हैं। यहां से प्रबंधक के साथ कक्षा निरीक्षक को भी गिरफ्तार किया। विद्यालय प्रबंधक  व्हाट्स एप और इलेक्ट्रानिक डिवाइस के जरिए अभ्यर्थियों को नकल करा रहे थे। परीक्षा केंद्र से सादी ओएमआर सीट बरामद करने के साथ ही सवाल-जवाब भेजने के लिए इस्तेमाल किए गए मोबाइल फोन भी पकड़े गए हैं।

एसटीएफ की टीम ने शुक्रवार को इलाहाबाद में छापेमारी कर इस गिरोह के कुछ सदस्यों को गिरफ्तार किया था। गिरोह के सदस्यों ने ही बताया था कि गोरखपुर में बड़े पैमाने पर नकल कराने की तैयारी है। इसी आधार पर एसटीएफ की भारी भरकम टीम शनिवार को ही यहां सक्रिय कर दी गई थी।

रविवार को सुबह दस बजे परीक्षा शुरू होने के बाद इस टीम ने ताबड़तोड़ छापेमारी कर गिरोह से जुड़े सदस्यों को गिरफ्तार किया।यह साजिश साल्वर सिराजुद्दीन ने बीएम सिंह मेमोरियल पब्लिक विद्यालय पिपराइच बैलो स्थित प्रबंधक संजय सिंह के साथ मिलकर रची थी।

लखनऊ से आई एसटीएफ की टीम गोरखपुर यूनिट के प्रभारी इंस्पेक्टर सत्य प्रकाश के नेतृत्व में सिराजुद्दीन को कुछ अभ्यर्थियों के साथ हरिओमनगर तिराहे से गिरफ्तार किया। पूछताछ में सिराजुद्दीन ने गंगानगर, शाहपुर स्थित बापू इंटर कालेज में वास्तविक अभ्यर्थी की जगह परीक्षा दे रहे अमित कुमार और पिपराइच स्थित परीक्षा केंद्र के बारे में बताया। इस आधार पर एसटीएफ ने बाकी स्थानों पर छापेमारी कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

हाईकोर्ट की प्रतियोगी परीक्षा में हुई इन मुन्ना भाइयों की गिरफ्तारी

संजय सिंह निवासी बैलो, पिपराइच,अभिषेक सिंह, निवासी बैलो पिपराइच, राहुल कुमार, निवासी वैशाली बिहार,अमित कुमार, निवासी पटना, बिहार,गोविंद कुमार, निवासी वैशाली,बिहार, चंदन राय,निवासी वैशाली,बिहार,मुबारक अली, निवासी तुर्कडीहा, कुशीनगर,राम प्रवेश, निवासी खोराबार, गोरखपुर,सिराजुद्दीन अली,निवासी पिपराइच, गोरखपुर,संदीप कुमार, निवासी पीपीगंज, गोरखपुर,रजीउल्लाह, निवासी बैलो,पिपराइच, गोरखपुर,मुन्नु गुप्त, निवासी पिपराइच, गोरखपुर,श्याम सिंह निवासी सिवान, बिहार।


GFR DeskNovember 13, 2017
Image-for-representation-15.jpg

गोरखपुर: जनपद के कैम्पियरगंज थाना क्षेत्र के बैजनाथपुर गांव के पिपराबारी टोला में सम्पत्ति के विवाद को लेकर मां बेटे की हत्या कर दी गयी। सौतेले भाई ने गड़ासा से वार कर भाई के पत्नी व बेटे की हत्या कर दी।

वही छोटे बेटे को लेकर उसकी दादी घर से भाग गई वरना उसे भी रंजिश का शिकार होना पड़ता। हत्यारोपी को पुलिस को ढूढ रही है।

जानकारी के अनुसार आरोपी घटना के बाद अपनी पत्नी के साथ बाइक से फरार हो गया। सूचना पर एसपी नार्थ गणेश शाहा मुकामी पुलिस के साथ मौके पर पंहुचे।

पुलिस के अनुसार वीरेंद्र शर्मा ने हसिये से वार कर अपने छोटे भाई लल्लन की पत्नी संगीता 28 वर्ष और उसके 3 वर्षीय बेटे आयुष को मार डाला। एसपी नार्थ गणेश साहा ने बताया कि गांव पिता रामजीत ने अपने मृत्यु के पूर्व अपने छोटे बेटे लल्लन को खेत लिख दिया। दोनों में प्रापर्टी को लेकर विवाद चल रहा था। घटना को इसी विवाद से जोड़कर पुलिस जांच आगे बढ़ा रही है।


GFR DeskNovember 12, 2017
body-of-a-woman-found-in-gorakhpur.jpeg

गोरखपुर: जनपद के गोला थाना क्षेत्र में बलात्कार के बाद हत्या कर फेंका गया एक युवती का शव बरामद किया गया है।

जानकारी के अनुसार गोला थानाक्षेत्र के गोपालपुर से माँलहनपार जाने वाली सड़क पर आज सुबह असिलाभार पेट्रोल पंप के पास 20 वर्षीया युवती का शव बरामद हुआ। सूत्रों के अनुसार युवती की बलात्कार के बाद हत्या कर दी गयी है।

रविवार की सुबह स्थानीय पुलिस को सूचना मिली की असिलाभार पेट्रोल पंप से 100 मीटर आगे सड़क के किनारे झाड़ी में एक लड़की की लाश पड़ी हुई है। सावंले रंग की लड़की ने सफेद सलवार और हलके गुलाबी रंग का समीज पहनी हुई थी। लड़की अभी अविवाहित थी।

शव देखने पर प्रथम दृष्टया रेप करने के बाद गला दबाकर हत्या का मामला लगता है। पुलिस ने शव को कब्जे में ले कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है


GFR DeskNovember 12, 2017
Image-for-representation-14.jpg

गोरखपुर: प्रापर्टी डीलर योगेश दत्त पांडेय की हत्या के आरोप में पुलिस ने लिटिल स्टार एकेडमी के निदेशक राहुल राय सहित राहुल पांडेय और राहुल यादव को हिरासत में लिया है।

आपको बता दें कि खोराबार थाना क्षेत्र के नई फलमंडी शिवपुरी कॉलोनी निवासी प्रापर्टी डीलर योगेश दत्त पांडेय की दो दिन पहले लाश मिली थी। परिजनों ने पुलिस को बताया था कि मृतक 10 की साय 5 बजे घर से निकला था। वापस ना आने पर परिजनों ने किसी अनहोनी की आशंका में 11 तारीख को गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई।

पुलिस ने मृतक के दफ्तर का सीसीटीवी फुटेज व दफ्तर के सामने एक पार्षद के घर के बाहर लगा सीसीटीवी कैमरे के फुटेज दोनों को खंगाला। फुटेज में मृतक अंदर जाते हुए दिखाई दिया लेकिन बाहर नहीं निकला। पुलिस ने इस आधार पर तफ्तीश के बाद लिटिल स्टार एकेडमी के निदेशक राहुल राय व दो अन्य युवकों राहुल पांडेय और राहुल यादव को हिरासत में ले लिया।

पूछताछ में रुपए के लेन देन का मामला सामने आता दिख रहा है। सूत्रों के हवाले से पता चला है कि योगेश ने राहुल राय को लगभग 16 लाख रुपये ब्याज पर चलाने के लिए दिये थे। राहुल ने ये रुपये राहुल पांडेय को एक साल पहले दे दिया था। यह रकम सूद समेत लगभग 22 लाख रुपये हो गई थी।

योगेश निरंतर पैसे की मांग कर रहा था इस बात को लेकर उन्होंने योगेश को ठिकाने लगाने का मन बना लिया और अपने वहां रुपए देने के लिए बुलाया। बुलाने के बाद उसके गमछे से गला कसकर हत्या कर लाश कैम्पियरंगज के पास जंगल में फेंक दिया।

 


GFR DeskNovember 11, 2017
Man-shot-dead-in-Khajni.jpeg

गोरखपुर: जनपद के खजनी थाना क्षेत्र के ग्राम सभा बरवल माफ़ी में आज जमीन के विवाद में एक भाई ने ही दूसरे भाई की गोली मार कर हत्या कर दी।

जमीन को लेकर भाइयों के रिश्तों में इतनी कड़वाहट आ गयी थी जिसकी कीमत एक को अपनी जान गवां कर चुकानी पड़ी। बरवल माफ़ी निवासी मुन्ना सिंह के चार पुत्र थे जिसमें सबसे बड़ा लड़का अजय सिंह, दूसरा लड़का सुनील सिंह, तीसरा विनीत व चौथा सुनील सिंह।

बड़ा लड़का अजय बाहर रह कर कमाता था। उसने अपनी कमाई के पैसे से अपने पिता मुन्ना सिंह के नाम से गांव में ही एक बीघा जमीन ख़रीदा था। कुछ दिन पहले बाहर से कमा कर जब अजय सिंह घर पंहुचा तो उसी जमीन को लेकर घर में विवाद होने लगा तो पिता ने उस जमीन को बेच दिया और सारा पैसा अजय सिंह को दे दिया।

इसी बात को लेकर एक दिन पहले घर में विवाद हुआ था। आज सुबह अजय सिंह अपने कुछ जरुरी काम से बाइक से गोरखपुर शहर में आये थे शहर से घर लौटते समय घर के 5 सौ मीटर पहले ही उनके छोटे भाई सुनील सिंह ने अपने स्कार्पियो गाड़ी से अजय को दौड़ा कर रिवाल्वर से तीन राउंड गोली चलाकर उनकी हत्या कर दी और उनकी बाइक भी लेकर फरार हो गया।

दिनदहाड़े चली गोली की आवाज से आसपास क्षेत्र में सनसनी फैल गयी। आननफानन में स्थानीय लोग व मुकामी पुलिस घटना स्थल पर पंहुची। जहाँ गोली लगने से अजय सिंह की मौत हो गयी थी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया है।


error: Content is protected !!